Our Blog

Kaise Kare Swasth Ling Ki Pehchan

विशेषज्ञ से जाने ling ko kaise bada kare

अगर आज आप देखे अपने लिंग को लेकर बहुत सरे लोग सोच में डूबे रहते है। की उनका लिंग छोटा क्यू है, वह अपने लिंग को कैसे बड़ा करे, वह अपने छोटे लिंग के साथ अपने साथी को कैसे संतुष्ट करे।

लेकिन यह बहुत कम लोग जानते है की स्वस्थ लिंग की पहचान क्या है, और ज्यादा तर लोगो का सवाल यही होता है की स्वस्थ लिंग की पहचान क्या है। तो आज मै आपको बता दू की

आज मै इस ब्लॉग में इसी बात का जिक्र करूँगा।

लिंग की लम्बाई कितनी होनी चाहिए।

लिंग जब सामान्य अवस्था में होता है तब लिंग की सामान्य लम्बाई ३.५ इंच से ३.९ इंच तक होनी चाहिए और जब लिंग उत्तेजित होता है तब ५.५ इंच से ५.५ तक होनी चाहिए। इससे हम यह समझ सकते है की जब लिंग उत्तेजित होता है तभी हम उसकी लम्बाई के बारे में जान सकते है, इसलिए जबभी लिंग सामान्य अवस्था में हो उसके लम्बाई का अंचलान न करे क्युकी जबभी आप अपने महिला साथी को खुश करने के लिए उत्तेजित होते है

कुछ अहम् बाते जो आपका लिंग स्वस्थ बनती है।

आपका लिंग तब तना हुआ होता जब आप उत्तेजना की अवस्था में होते है, उसका बड़ा या छोटा होना आपकी उत्तेजना पे निर्भर करता है। जब आप उत्तेजित है तब अगर आपका लिंग तना है तो आपका लिंग स्वस्थ है।

छोटे से छोटा लिंग भी योनि के हिस्से हो छूता है, तो अगर आप ये सोचते है की छोटे लिंग से अगर आप अपने साथी को खुश नई कर सकते तो आप गलत सोचते है।

अगर आप स्मोकिंग करते है तो आपका लिंग सिकुड जाता है, तो मेरी सलाह यही है की स्मोकिंग से अगर आप जितना दूर रहे उतना अच्छा होगा आपके लिंग के लिए।

२० साल की उम्र तक आपका लिंग बढ़ता है और उसके बाद रुक है, आपके लिंग की जो लम्बाई होती है वो २० साल तक होती है और आप उस समय तक पूरी तरह से अपने महिला साथी को सतुष्ट कर सकते है।

जरूर पढ़े:-Jane Apne Ling Ko Mota Karne Ki Exercise Ke Bare Me

अगर आपका लिंग केले की तरह मुडा हुआ है तो आप तुरंत किसी विशेषज्ञ से संपर्क करे क्यू की यह किसी बीमारी की निशानी होती है, जिसका आपको इलाज तुरंत करना चाहिए।

हमारे दीमक से लिंग का एक भाग जुड़ा होता है जिससे उत्तेजना पैदा होती है, अगर आप टेंशन में रहते है तो लिंग में उत्तेजना आने में दिक्कत होती है।

ठंडा पानी आपके लिंग को निकसान पंहुचाता है, तो अपने लिंग पे ठंडा पानी न डाले।

आपने लिंग को स्वस्थ रखने के लिए आप रोजाना योग और व्यायाम जरूर करे जिससे ब्लड फ्लो पर्याप्त मात्रा में पूरे शरीर तक पहुँचता है।